कल शहीद दिवस था

कल शहीद दिवस था । मेरा फेसबुक एकाउंट भी बाकी देशवासियों के फेसबुक एकाउंट की तरह भावभीनी श्रद्धांजलि के संदेशों से भर गया ।

लेख की गगरिया और कमेंट्स की कंकड़िया – हाय ! फोड़ डाली !

आज के समय में आधुनिक माध्यम (सोशल मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया) ने हर व्यक्ति को इतना सक्षम बना दिया है कि वो जब चाहे अपने विचार एक बहुत बड़े समूह में साझा कर सकता है । बहुत से लोगों के लिए कम शब्दों में अपनी बात कह पाना संभव नहीं होता तो वो तरह तरह…

Meeting the dumb and Dumber

It’s not that I love to catch up with dumb and dumber guys, but, sometimes, they are unavoidable, seriously. In real life, I may somehow escape such fellows but with social media they are virtually inevitable occurrence. Facebook, Twitter, WhatsApp, few blogger sites and many more have armed stupid people with the power to rock…

Finally, I know why I blog.

I am a blogger and I find blogging pretty cool and amazing. Yesterday, I had a conversation with someone, let’s say ‘Ms. A’, in my neighborhood. I would like to present a small piece from that conversation. Ms. A – Now your kid has grown up and her school hours are extended, why don’t you…